Cells in hindi, about of cell, Cell structure, कोशिका के बारे में ।

About of cells (कोशिका के बारे में )

Cells structure





आज हम Biology के एक बहुत ही महत्वपुर्ण Topic जिसका नाम है Cell अर्थात् कोशिका बारे में अध्धयन करेंगे।  Cell से संबधित जो भी Important Points बनेंगे उन सभी Points को हम अच्छे से समझेंगे। तो आइए शुरू करते है, Cell के बारे में अध्धयन करना ।

● What's cell (कोशिका क्या है ?) 

कोशिका (Cell) जीवों की मुख्य संरचनात्मक एवं क्रियात्मक इकाई है।

"Cells are the structural functional and biological units of all living beings."

अर्थात् Cell जीवों के शरीर का पहला भाग है जिससे जीवों के शरीर (Body) के ऊतको (Tissues) से लेकर अंगो (Organs) तक का निर्माण होता है। जीवों के शरीर के सभी अंगो की Cells का आकार एकसमान नही होता है। इसका आकार कार्यप्रणाली के हिसाब से अलग - अलग होता है।

  • कोशिका का अध्ययन (Study of cells ) Cytology या Cell biology  कहलाता है । 
  • Robert Hook पहले जीव वैज्ञानिक थे जिन्होंने 1665 में कोशिका (Cells) की खोज की ।
  • सभी जीवों का निर्माण Cells से होता है।
Cells के आधार पर हमें दो प्रकार के जीव (Organism) देखने को मिलते हैं -

1. Unicellular Organism (एककोशिकीय जीव)

ऐसे Organism जिनका शरीर केवल एक Single cell से निर्मित होता है, Unicellular Organism कहलाते हैं, जैसे - Amoeba, Paramoecium, Euglena, Yeast, Bacteria आदि।

2. Multicellular Organism (बहुकोशिकीय जीव)

ऐसे जीव जिनके शरीर का निर्माण अनेक कोशिकाऔं (Cells) से मिलकर होता है, Multicellular Organism कहलाते हैं।

● Cell Theory (कोशिका सिद्धान्त)

सन् 1838 में M.j. Shleide और सन् 1839 में Theodor Sehwann ने Cell theory को   प्रस्तुत किया ।

  • Cell theory के अनुसार प्रत्येक जीव का शरीर (Body), Unicellular या Multicellular होती है। अर्थात् जीवों का शरीर एक कोशिका से बना होता है, या फिर अनेक कोशिकाऔं से मिलकर बना होता है।
  • Cell theory के अनुसार किसी भी जीव की उत्पति एक कोशिका (Single cell) से ही होती है।


● Exception of cell theory (कोशिका सिद्धान्त का अफवाद)

जब 1892 में Dmitri Ivanovsky (ऱूसी वैज्ञानिक) द्वारा Virus (विषाणु) की खोज की गई तो Cell theory, Virus के ऊपर सही तरीके से लागु नही हो पायी। अर्थात् Cell theory में जो प्रस्तावना दी गई वह Virus के ऊपर पुरी तरह लागु नही होती है। क्योकी Virus(विषाणुओं) में Cell नही होती है। ये हमेशा संक्रामक परजीवी के रुप में ही होते हैं।  इस कारण Cell theory को बाद में Theory न मानते हुए इसे केवल एक तथ्य माना गया।


● Cell organelle (कोशिकांग)

Cells के अंदर बहुत से छोटे - मोटे घटक होते हैं जो Cells का  निर्माण करते हैं, Cell organelle कहलाते हैं।
Cell organelle निम्न प्रकार के होते हैं -

● Cell Membrane (कोशिका झिल्ली)

उपनाम - Semi-permeable membrane (अर्द्धपारगम्य झिल्ली),Plasma membrane .
यह वसा एवं प्रोटीन से बनी होती है।

○ Function of cell membrane 

Cell membrane, दोहरी झिल्ली युक्त होती है, जिसके मध्य में अनेक Holes (छिद्र) होते हैं। 
यह Cell में निम्न कार्य करती है -
  • Cell को निश्चित आकृति प्रदान करना।
  • Cell को Mechanical support देना व सुरक्षा प्रदान करना।
  • अलग - अलग प्रकार के अणुओं का Cell में आने - जाने हेतु ऩियंत्रित करना ।


● Cell Wall (कोशिका भिति)

यह केवल Plant cell (पादप कोशिका) में ही पायी जाती है। इसके द्वारा  Animal cells (जन्तु कोशिकाओँ) और Plant cells (पादप कोशिकाओं) में विभाजन किया जा सकता है।
यह एक Permeable (पारगम्य) होती है जो की Cellulose नामक पदार्थ से बनी होती है।

○ Function of cell wall

  • Plant cell (पादप कोशिका) को निश्चित आकृति प्रदान करना।
  • Plants में Translational motion (स्थानान्तरीय गति) का न हो पाना।
  • Plant cells को Protection तथा Mechanical support प्रदान करना।

● Mitochondria (माइटोकाॅण्ड्रिया)

उपनाम -  Power house of cell (कोशिका का ऊर्जा गृह)
Mitochondria की खोज सन् 1890 में Richard Altman ने की थी तथा इसका नामकरण बेन्दा द्वारा किया गया ।

○ Mitochondria में पाये जाने वाले प्रमुख घटक

◆ Cristae (क्रिस्टी) 

माइटोकाॅण्ड्रिया Membrane - bound organelles है जिसमें दो अलग - अलग membrane (झिल्ली) होती है। इसकी आंतरिक झिल्ली में अंगुली के समान गुहा जैसी रचना होती है जिन्हें ही Cristae कहा जाता है।

◆ Oxysome (ऑक्सीसोम)

Cristae की सतह पर अनगिनित छोटे - छोटे कण के समान रचना होती है जिन्हे Oxysome कहा जाता है।

◆ Matrix

Cristae का मध्य भाग Matrix कहलाता है। 
Matrix में निम्न पदार्थ पाये जाते हैं -
  • प्रोटीन (65% - 70%)
  • फास्फोलिपिड (25%)
  • RNA (0.5%)

○ Function of mitochondria

  • Cells (कोशिका) को ऊर्जा प्रदान करना, Mtiochondria द्वारा उत्पदित ऊर्जा ATP (Adenosine triphosphate) अणुऔं के रुप में Stored (संग्रहित) होती है।

● Endoplasmic Reticulam (E.R. - अन्त: प्रद्रव्यी जालिका) 

E.R., Cells के Nucleus (केन्द्रक) तथा Cell membrane के मध्य Cytoplasm (कोशिकाद्रव्य) में अनियमित सुक्ष्मनलिकाऔं का एक घना जाल जैसी सरंचना होती है।
E.R. की खोज गार्नियर नामक वैज्ञानिक ने सन् 1879 ई. में कि थी। यह लाइपोप्रोटीन बनी होती है।

○ Types of E.R. (Endoplasmic Reticulum के प्रकार)

यह निम्न दो प्रकार की होती है -

1.Smooth E.R. (चिकनी अंतद्रव्यी जालिका)

इसकी सतह पर Ribosomes नही पाये जाते है तथा यह वसा व लिपिड अणुऔं के संश्लेषण का कार्य करती है।

2.Rough E.R. (खुरदरी अंतद्रव्यी जालिका)

इसकी सतह पर Ribosomes पाये जाते हैं जिसके कारण यह खुरदरी होती है। Rough E.R. प्रोटीन संश्लेषण का कार्य करती है।

○  Function of E.R.

  •  E.R., Cytoplasm के विभिन्न क्षैत्रों तथा Cytoplasm व Nucleus (केन्द्रक) के मध्य विभिन्न पदार्थों के परिवहन का कार्य करती है। 
  • इसके अलवा यह गाॅल्जीकाय (Gogi body) का निर्माण करती है।
नोट :- जीवणु, नीले हरे शैवाल तथा स्तनधारियों की R.B.C में E.R. नही पाये जाते हैं।

● Ribosome (राइबोसोम)

Ribosome झिल्ली रहित होते हैं अर्थात् इनके चारों और कोई झिल्ली नही पायी जाती है।

उपनाम -   Protein Factory
▪ Ribosomes, Prokaryotic और Eukaryotic दोनों प्रकार की Cells में पाये जाते हैं। 
▪ यह RNA (Ribonucleic Acid) व प्रोटीन के बने होते हैं।
▪ Cells में Ribosomes, Rough E.R. के अलावा Mitochondria व लवक (Plastid) में भी उपस्थित होते हैं।

○ Function of Ribosomes

  • Ribosomes, Proteins संश्लेषण का कार्य करते हैं।

● Golgi Body / Golgi Apparatus (गाॅल्जीकाय या गाॅल्जी उपकरण)

इसकी खोज सन् 1898 ई. में Camillo Golgi द्वारा की गई थी।

उपनाम - Traffic manager of the molecules of cell (कोशिका के अणुऔं का यातायत प्रबंधक)
Cells में Golgi Body मुड़ें हुई गुच्छों के समान खोखली, चपटी नलिकाओं के समान दिखाई पड़ती है।

○ Function of Golgi Body

  • प्रोटीन व अन्य पदार्थों का वहन करना ।
  • Cell Wall एवं Lysosome का निर्माण करना ।

● Lysosome 

उपनाम -  Suicide bag of cell (कोशिका की आत्महत्या थैली)।
यह बहुत ही सुक्ष्म, आकार में गोल Single membrane से घिरी थैली जैसी रचना होती है। इसमें 24 प्रकार के एंजाइम पाये जाते हैं जो कि जीवद्रव्य को घूला कर नष्ट करने तक की क्षमता रखते हैं। इस कारण इस Suicide bag of cell भी कहा जाता है। 
Lysosome की खोज सन् 1958 ई. में Christian de duve द्वारा की गई थी।

○ Function of Lysosome

  • बाहरी पदार्थों का भक्षण एवं पाचन करना ताकि नए Cell Organelle (कोशिकांग) को जगह मिल सके।
नोट :- स्तनधारियों के RBC में Lysosome नही पाये जाते हैं।

● Centrosome (तारककाय)

यह केवल Animal Cells (जन्तु कोशिकाओं ) में ही पाये जाते हैं।
Cells में इनकी रचना Nucleus के पास में तारे के समान होती है। 
प्रत्येक Centrosome में दो Centrioles होते हैं, जो कि एक - दुसरे के लम्बवत होते हैं।

○  Function of Centrosome

  • शुक्राणू की पूंछ का निर्माण करना।
  • सूक्ष्म जीवों में पाये जाने वाले गमऩ अंगों जैसे - Flagellia व Cillia का आधार बिन्दु बनाना।
  • Cell division (कोशिका विभाजन) के समय विभाजन में सहायता करना।
  • Cell division के दौरान Chromosome (गुणसूत्रों) को Maintain रखना।

● Plastids (लवक)

Plastids, केवल Plant cells (पादप कोशिकाओं) में Cytoplasm(कोशिकाद्रव्य) के चारों और बिखरी अवस्था में होते हैं। ये आकार में अनेक प्रकार के जैसे - गोलाकार, अण्डाकार, कुण्डलीनुमाकर आदि होते हैं।

○ Types of plastids

मुख्यत: Plastids तीन प्रकार के होते हैं।

1. Chromoplasts (वर्णीलवक)

ये Plastids Colourful (रंगीन) होते हैं, जो कि Plants के Colourful Parts जैसे Flowers (फुल), Seeds (बीज), Fruits (फल) आदि में पाये जाते हैं।

2. Chloroplast(हरितलवक)

इनका Colour, Green होता है। इनमें Chlorophyll होता है जिसकी सहायता से Plants में Photosynthesis Process (प्रकाश संश्लेषण प्रक्रिया) संभव हो पाती है।
  • Chloroplast को " कोशिका की रसोई " भी कहा जाता है।
  • Chloroplast में दोहरी झिल्ली युक्त Cell organelles (कोशिकांग) है अत: इसमें Inner membrane (आंतरिक झिल्ली) , Outer membrane (बाहरी झिल्ली) के अलावा Stroma, Thylakoid, Inter membrane भी पाये जाते हैं।

○ Function of Chloroplast

  • Chloroplast में Chlorophyll होेने के कारण Plants में Photosynthesis Process में सहयता करता हैै जिससे Plants को भोजन मिल पाता है।
  • Chloroplast के द्वारा Plants में प्रकाश ऊर्जा को अवशोषित करके रासायनिक ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है।

3. Leucoplasts (अवर्णीलवक)

ये Colourless (रंगहीन) plastids होते हैं जो कि   Plants के उन भागों में पाये जाते है जो सुर्य के प्रकाश से वंचित होते है अर्थात् जिन पर सुर्य का प्रकाश नही पहुंच पाता हो जैसे - जड़े, भुमिगते तने आदि।

○  Function of Leucoplasts 

  • Leucoplasts, Plant cell में स्टार्च, लिपिड और प्रोटिन संग्रहीत करने में उतरदायी होते हैं।
Vacuoles (रसधानी)
Cells में Vacuoles  चारों और से अर्द्धपारगम्य झिल्ली से घिरी होती है जिसे Tonoplast कहते हैं।
Animal cells (जन्तु कोशिकाओं) की तुलना में Plant cells (पादप कोशिकाओं ) में Vacuoles बड़े होते हैं। Vacuoles में खनिज पदार्थ, प्रोटिन, Pigments विलयन के रुप में संग्रहित होते हैं। इस विलयन को Cell sap (कोशिका रस) के नाम से जाना जाता है।

○  Function of Vacuoles

  • Plant cell में स्फीति (Turgidity) और कठोरता प्रदान करना।
  • Animal cell में Water balance को maintain ऱखना।
  • कुछ Unicellular organisms (एककोशिकीय जीवों) में Waste material (अपशिष्ट पदार्थ) को बाहर निकालना।

Some important points 

  • सबस बड़ी कोशिका - Ostrich egg (शुतुरमुर्ग का अण्डा)।
  • सबसे छोटी कोशिका - Mycoplasma gallisepticum (जीवाणु माइकोप्लाज़्मा गैलिसैप्टिकम) ।
  • सबसे लंबी कोशिका - Nerve cell (तंत्रिका कोशिका)।
  • मानव शरीर की सबसे बड़ी कोशिका - Human egg (ovum) (डिंब)।
  • मानव शरीर की सबसे छोटी कोशिका - Sperm (शुक्राणु)।

Comments

Popular posts from this blog

work energy and power questions in hindi (quiz)

राजस्थान की झीले Lake of raj in hindi, Raj quiz in hindi

Raj. police constable 2020 result